Breaking News

स्वास्थ्य एवं सुखी जीवन बिताने की 20 तरीके

स्वस्थ जीवन बिताने के टिप्स-Helthitips life tips
यहाँ बताई गई टिप्स आपको एक हेल्दी लाइफस्टाइल दे सकती है। अगर आप स्वस्थ और सुखी जीवन पाना चाहते है तो आज से ही यहाँ बताई गई टिप्स को अपनी नियमित आदत बना लें।
स्वास्थ एवं सुखी जीवन Ravikaushambi

1. अपनी कैलोरी और भोजन की मात्रा की गणना करें। केवल उतना ही खाएं जितना आपको ऊर्जावान और पूरी तरह से चार्ज करने के लिए पर्याप्त हो। मतलब, अपने शरीर की जरूरत से ज्यादा या कम न खाएं।

2. प्राकृतिक, जैविक और ताजा खाद्य पदार्थ और फल खाएं, नियमित रूप से fermented foods खाएं और उन्हें अपने नियमित आहार का हिस्सा बनाएं। इडली- डोसा, ढोकला, दही और अन्य स्वस्थ किण्वित खाद्य पदार्थ खाएं।

3. शुद्ध पानी पिएं, दिन में कम से कम 4 से 6 गिलास पानी आपको हाइड्रेटेड, स्वस्थ और जीवित रखने के लिए सबसे जरूरी है। दूषित पानी न पिए।

4. प्राकृतिक और स्वस्थ खाद्य पदार्थों का सेवन करें। प्राकृतिक खाद पदार्थ स्वस्थ प्रोटीन, खनिज, विटामिन और वसा से भरे हुए होते हैं। वे आपको थोड़ी मात्रा में अधिक पोषण प्रदान करते हैं। इनकी थोड़ी मात्रा आप को तृप्त और भरपूर रखती है और आपको पूरा दिन पर्याप्त ऊर्जा देती हैं।

5. ऑर्गेनिक ऑलिव ऑइल, सरसों के तेल और एक्स्ट्रा वर्जिन कोल्ड प्रेस्ड कोकोनट ऑइल और ऑर्गेनिक क्लेरिफाइड बटर (शुद्ध घी) का सेवन करें, जो आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। पुरे दिन के भोजन में कम से कम 20 से 30 एमएल तेल का उपयोग करें।

6. अधिक डेयरी उत्पाद का सेवन न करें, आजकल डेयरी उत्पाद सबसे अधिक मिलावटी और दूषित खाद्य उत्पाद हैं, ये बहुत जोखिम वाले और हानिकारक हैं।

7. ज्यादा से ज्यादा कच्ची सब्जियां और फल खाएं, जैसे ककड़ी, सीताफल, गाजर, अदरक, लहसुन, नींबू, चुकंदर, मूली, प्याज, पत्तेदार साग, पालक आदि। वेजिटेरियन डाइट खाने का ज्यादा सेवन करें, इसके बहुत सारे फायदे हैं।

8. बाहर के खाने से बचें, अगर आपको घर से अधिक समय तक दूर रहने की ज़रूरत है, तो अपने साथ घर का बना खाना रखें और शुद्ध पानी की बोतल रखें, processed foods, जमे हुए खाद्य पदार्थ, आइसक्रीम आदि frozen foods का सेवन करने से बचें।

9. एक स्वस्थ दिनचर्या बनाएं। अच्छा खाना, अच्छी नींद और नियमित दिनचर्या। रात्रि 8.30 बजे से पहले रात का खाना खाएं और 10.30 बजे तक सोने और सुबह 6 बजे जागने की आदत डालें। यदि आसपास ज्यादा शोर-शराबा हो तो निकटतम बगीचे में जाएं।

10. समोसा, कचौरी, आलुवड़ा, ब्रेड पकोडा आदि सड़क के किनारे के विक्रेताओं या किसी भी रेस्तरां द्वारा सभी तरह की तली-भुनी चीजें न खाएं, क्योंकि ये निम्न-गुणवत्ता, उच्च कोलेस्ट्रॉल और तेल से युक्त अस्वास्थ्यकर वसा का उपयोग कर रहे हैं, ये लोग उन्हें तलने के लिए तेल का उपयोग तब तक करते हैं जब तक कि तेल पूरी तरह से ख़राब न हो जाए।

11. नियमित व्यायाम करें, दिन में कम से कम 45 से 60 मिनट तक टहलें, सुबह की धूप लें, कम से कम 15 मिनट तक, प्राकृतिक हरी-भरी जगहों पर जाएँ, शारीरिक गतिविधियाँ करें, दौड़ें, तैराकी करें, शारीरिक व्यायाम करें, संभव हो तो ये सभी काम घर पर करें।
आधुनिक जीवन में हम अपने शरीर को कम से कम स्थानांतरित करते हैं, और यह हमारे शारीरिक और मानसिक भलाई के लिए बहुत बड़ा परिणाम है। व्यायाम हमारे दिमाग में प्रोटीन और एंडोर्फिन का स्तर बढ़ाता है, जिससे हमें खुशी महसूस होती है। यह हमें काम पर अधिक उत्पादक बनाता है। सुखी जीवन के लिए व्यायाम आवश्यक है।

12. अपने आप को उन लोगों की संगति में रखें जो अत्यधिक स्वास्थ्य के प्रति सचेत हैं और आपको एक नियमित और स्वस्थ दिनचर्या जीने में मदद करते हैं। क्योंकि हम समान आदतों और गतिविधियों वाले लोगों के साथ संबद्धता के कारण खुद में बहुत कुछ बदलाब करते हैं।

13. बेकरी फूड्स न खाएं।

14. अपने घर में एक वेटिंग मशीन रखें ताकि आप बार-बार अपना वजन चेक कर सकें। अपनी वर्तमान स्वास्थ्य स्थिति को जानने के लिए वर्ष में कम से कम एक बार स्वास्थ्य जांच करवाएं।

15. Google पर खाने और उपभोग करने से पहले हर चीज के बारे में जान लें कि आप क्या खा रहे हैं और आपके शरीर-दिमाग पर उनका क्या प्रभाव पड़ रहा है। उनमें से ज्यादातर के बारे में सच्चाई जानकर आप चौंक जाएंगे।

16. वर्तमान पर ध्यान दें। पिछली गलतियों से चिंता या खेद की भावनाओं से बचें। यह आपके शरीर को तनाव देगा। इसके बजाय उन उपहारों की सराहना करें जो आपको इस समय दिए जा रहे हैं। आपने जो शुरू किया है उसे जारी रखें और उससे चिपके रहें।

17. अपने विचारों को महान महसूस करने के लिए हमेशा सकारात्मक रहें। यह सुनिश्चित करने के लिए अपने विचारों की बारीकी से निगरानी करें। केवल सकारात्मक चीजें ही आपके दिमाग में संग्रहीत हों। नकारात्मक विचारों को सकारात्मक विचारों में बदल दें।
18. आप खाने के लिए जो चुनते हैं, वह न केवल आपके स्वास्थ्य को प्रभावित करता है, बल्कि आपके मूड को भी प्रभावित करता है।

19. ध्यान करें: नियमित ध्यान स्थायी रूप से खुशी के स्तर को बढ़ाने के लिए मस्तिष्क को फिर से जागृत कर सकता है। ध्यान जीवन में विकसित होने वाली सबसे अच्छी आदतों में से एक है। यह आप में बेहतर स्मृति, और भावनात्मक लचीलापन देता है।

20. मुस्कुराने का अभ्यास करें, मुस्कुराना आपकी सेहत को बेहतर बनाता है। यह आपको लंबे समय तक जीवित रखता है।

21. मोबाइल का ज्यादा इस्तेमाल ना करें और टीवी को कम से कम समय दें।

यह है एक स्वस्थ और सुखी जिंदगी जीने के उपाय। हमें उम्मीद है कि अगर आप इन सभी 20 पॉइंट्स को अपनी जीवनशैली में लागू करते हैं तो आप कभी भी अपनी जिंदगी में किसी परेशानी का सामना नहीं करेंगे और आप एक स्वस्थ और सुखी जीवन जी रहे होंगे।

No comments

Dosto kahi par bhi aapko problum hoti hai to aap comment karke pooch sakte hai Ham Aap ka Reply Jaroor Denge Aur Aapki Help karenge .
To Dosto Share Kare Aur Apne Dosto ko Bhi Bataye Jisse Aapke Dosto ki Bhi Help Ho Sake .
Thank you Keep Visiting