Like On Facebook

header ads

कौशाम्बी के बेरुई गावँ में 6 वर्षीय बालक के छूने से सारी बीमारी हो जाती है दूर। Kaushambi Berui 6 saal ka balak ka chamatkaar

रोगों का उपचार कर रहे मासूम बच्चे से उसके द्वारा छू कर किये जा रहे उपचार के संबंध में जानना चाहा तो उसने बताया कि वह मंझनपुर तहसील क्षेत्र के सरैया गांव निवासी गोलू पुत्र राजू सरोज उम्र 6 वर्ष है। 
तकरीबन 4 माह पहले अपने परिवार के बाबा, चाचा व पिताजी के साथ यमुना पार स्थित दरहा गांव ननिहाल जा रहा था, रास्ते में यमुना किनारे पहुंचने पर उसके बाबा को शौच लगी तो वह अपने बाबा के साथ वही यमुना किनारे रुक गया, बाकी लोग चलते चले गए l
बालक वही यमुना के पानी से खेलने लगा, उसी समय उसके हाथ एक छोटी सी मछली लगी जिससे वह डर कर छोड़ दिया। इसके बाद मछली देखते ही देखते बड़ी होने लगी यह देख बालक गोलू डर कर बेहोश हो गया तब तक उसके बाबा भी उसके नजदीक पहुंचकर परेशान हो गए, थोड़ी देर बाद बालक को होश आया और वह अपने ननिहाल चला गया। 

मासूम बालक गोलू ने बताया कि जब यमुना किनारे बेहोश हुआ था उस समय बड़ी हुई मछली ने उससे कहा कि तुझे एक आशीर्वाद देती हूं। आज से 4 माह के बाद तू जिस भी रोगी इंसान के शरीर को छू लेगा उसका रोग खत्म हो जाएगा। हालांकि मछली की बात गोलू सपना समझ कर भूल गया था। लेकिन 4 माह बीतने के बाद उसे अजीब सी उलझन होने लगी तो उसने इसकी जानकारी अपने नाना को दिया। 
नाना उसके लकवा रोग के पीड़ित थे। नाना ने कहा कि यदि ऐसा है तो तू मेरे लकवा शरीर को सहला दे और वही हुआ। उसके अनुसार नाना का शरीर सहलाते ही नाना ठीक होकर चलने लगा। यह चमत्कार जब उसके नाना उसके पिता राजू से बताया तो वह लोग जाकर लड़के को गांव लाये, जहां रोगों से ग्रसित इंसानों का मजमा लग गया। 

सराय अकिल थानाक्षेत्र के ग्रामपंचायत सड़वा में महज 6 वर्ष का मासूम बच्चा गोलू बच्चा पुत्र राजू सरोज है जो चमत्कार दिखा रहा है। जिससे इलाज के लिए सैकड़ो की संख्या में लोग लाइन लगाकर अपनी बारी आने का इंतजार कर रहे है। जो महज मासूम बच्चे के छू देने का इंतजार कर रहे है। अब इसमें कितनी सच्चाई है यह तो नही मालूम लेकिन आस्था में लबरेज कई प्रकार की बीमारियों से पीड़ित लोग इस चमत्कार को आजमाने के लिए लंबी-लंबी कतारों में खड़े है। 

कौशांबी के बेरुई गावँ की पूरी वीडियो देखें 


Post a Comment

0 Comments